हिन्दू रीती से बच्चे का नाम कैसे रखे | hindu riti se kaise rakhe bachche ka naam | नक्षत्र अनुसार बच्चे का नाम कैसे रखे naam nikalna

  • by
  हिन्दू रीती से बच्चे का नाम कैसे रखे,hindu riti se kaise rakhe bachche ka naam  आपने अभी तक पढ़ा होगा बालक या बालिका का नाम राशि अनुसार रखा जाता है , जातक के जनम समय जो राशि होगी उसी अनुसार बच्चे का नाम रखा जाता है , ज्योतिष की थोड़ी और गहराई में जाने पर आपको पता चलता है की बालक या बालिका का नाम जनम राशि नहीं उसके जनम नक्षत्र  और उस नक्षत्र का कोण सा चरण चल रहा था जनम के समय उसी आधार पर बच्चे का नाम रखा जाता है
bachche ka namkern
हमारे ब्रह्माण्ड में 27 – 28  नक्षत्र बतलाये गये है , प्रत्येक नक्षत्र के चार  – चार चरण होते है , जनम समय नक्षत्र का कौन सा चरण चल रहा था , ये ज्ञात करना बहुत जरुरी है , उद्धरण के लिए अगर किसी बच्चे का जनम अश्वनी नक्षत्र के पहले चरण में हुआ है तो उसके नाम का पहला अक्षर चू  होना चाहिए  ,

चरण
नक्षत्र                           1  , 2 , 3 , 4
—————————————
1) – अश्विनी           =  चू  ,चे , चो , ला
2) – भरनी                = ली , लू , ले , लो
3 ) – कृतिका            =  अ , इ ,उ , ए
4 ) – रोहिणी             = ओ  , वा  ,  वी  , वू
5 ) – मृगशिरा         =   वे ,वो , का , की
6 ) – आर्द्रा                = को  ,घ  ,ण  , छ
7 ) –  पुनर्वसुः            = के , को , ह , हि

8 ) – पुष्य                 =   हु , हे  , हो  , डा
9 ) – आश्लेषा           =   डी , डु , डे   , डो
10 ) – मघा               =  मा  , मी  , मू  , में
11 ) – पूर्वाफाल्गुनी    =  मो  , टा ,  टी ,  टू
12 ) – उत्तराफाल्गुनी   = टे , टा , पा , पी
13 ) – हस्त                 =  पू   , ष  , ण , ठ
14 )- चित्रा                  =  पे  , पो , रा , री

15 ) – स्वाति             =    रु , रे , रो ,ता
16 ) – विशाखा           =  ती  , तू   ,ते,  तो
17 ) – अनुराधा           =  ना , नी ,  न ,  ने
18 ) – ज्येष्ठा             = नो , या , यी  , यू
19 ) – मुला               =  ये , यो   , भा , भी
20 ) – पूर्वाषाढ़ा        =    भू ,  ढ ,  फ ,  ढ़
21 ) – उत्तराषाढ़ा      =   भी , भो , जा, जी
22 ) – अभिजीत        =   जे   , जो , खा  ,जू
23 ) – श्रवण            =    खू  , खे   , खो  , खी
24 ) – धनिष्ठा         =   ग , गी   गु  , गे

25 ) – शतभिषा      =     गौ  ,  सा , सी , सू
26 ) – पूर्वभद्रपद      =    से , सो , दा  ,  दी

27 ) – उत्तराभाद्रपद  =  दू  , थ , झ , न
28 ) – रेवती             =    दे , डो  चा , ची

दोस्तों आज से 20 –  30  वर्ष पहले जनम पत्री बनाने के लिए ज्योतिषाचार्य   बहुत गहन , गणना करते थे तब जाकर एक जनम पत्री बनती , अब कम्प्यूटर और डिजिटल का युग आ गया है , आप एक मिनट में अपनी सम्पूर्ण जनम पत्री बना सकते है चाहे आप को ज्योतिष आती हैं या नहीं ,

बहुत से ऑनलाइन और ऑफलाइन सॉफ्टवेयर मौजूद है , जिस की हेल्प से आप अपनी , राशि और नक्षत्र की जानकारी प्राप्त का सकते है , और ये भी जान सकते है की नक्षत्र का कौन सा चरण चल रहा है , ऊपर दे गयी तालिका से आप अपने बच्चे के  नाम का पहला अक्षर निकाल सकते है फिर उसी अनुसार , अपने बच्चे का  नाम रखें यही
सनातन विधि है , नाम निकलने की
धन्यबाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *