Dosti Shayari in Hindi with images downloaded

सुरज कॆ सामने रात नही होती, सितारो सॆ दिल की बात नही होती, जिन दोस्तो को हम दिल सॆ चाहतॆ है न जानॆ क्यो उनसॆ मुलाकात नही होती.

दोस्त को भूलना ग़लत बात है, उन्ही का तो जिंदगी भर साथ है, अगर भूल गये तो सिर्फ़ खाली हाथ है, अगर साथ रहे तो ज़माना कहेगा- क्या बात है.

दोस्ती चीज नहीं जताने की, हमें आदत नहीं किसी को भुलाने की,हम इसलिये आपसे कम बात करते हैं, की नजर लग जाती है रिश्तों को जमाने की.

हम अपने पर गुरुर नहीं करते, याद करने के लिए किसी को मजबूर नहीं करते. मगर जब एक बार किसी को दोस्त बना ले, तो उससे अपने दिल से दूर नहीं करते.

कोई दौलत पर नाज़ करते हैं, कोई शोहरत पर नाज़ करते हैं, जिसके साथ आप जैसा दोस्त हो, वो अपनी किस्मत पर नाज़ करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *