garmi se rahat pane ke upaye Garmi se bachne ka tarika hindi me

  • by

garmi se rahat pane ke upaye  दोस्तों अब गर्मिओं का मौसम अपने चर्म पर है ,अगर आपको किसी काम से मार्किट जाना पड़ जाये तो घर बापिस आते आते ,शरीर का बुरा हाल हो जाता है ,बेचैनी और सर में दर्द होने लगता है गर्मिओं में आप जितना भी पानी पी लो प्यास है की बुझने का नाम ही नहीं लेती , गला और होंठ सूखते है ,आँखों में जलन होने लगती है

garmi se kaise bache

garmi se rahat pane ke upaye

अक्सर भारतीय घरों में प्यास बुझाने के लिए सॉफ्ट ड्रिंक्स और कोल्ड ड्रिंक्स  का प्रयोग किया जाता है दोस्तों आज हम आपके लिए कुछ ऐसे आयुर्वेदिक और घरेलु नुस्खे ले कर आये है जिनको पीने से आपको गर्मी का अहसाह नहीं होगा .इनको पीने से आप तपती गर्मी में भी fresh  रहोगे . और ये आयुर्वेदिक ड्रिंक्स स्वास्थ्य की दृष्टि से भी लाभदायक है ,

garmi se bachne ke liye kya piye

केवड़ा का शर्वत :-

अधिक गर्मी में बाहर घूमने से आँखों में जलन और urine  पीला आने लगता है ,और दिमाग भारी महसूस होता है इसके लिए केवड़े का शर्वत बहुत लाभकारी होता है ,केवड़े का शर्बत बहुत स्वादिष्ट और जायकेदार होता है इसको पीने से प्यास बुझती है ,अमाशय को शांति मिलती है ,केवड़े का शरबत शरीरिक और मानसिक थकावट को दूर करता है , गर्मिओं में अगर urine  में जलन होने लगे तो ये drink उसके लिए भी लाभकारी है .

फालसा का शरबत :-

अगर आप कोल्ड ड्रिंक्स और फ्लेवर्ड पेय अपने बच्चो को पिलाते है तो इसका मतलब आप अपने बच्चों से प्यार नहीं करते , यदि आप सच में अपने बच्चों को प्यार करते ही तो आप उनको ayurvedic  शरबत पिलायें ,अब हम आपको एक ऐसा ayurvedic drink बताने बाले है जो बच्चों और बड़ों के लिए समान रूप से लाभकारी है .

गर्मिओं के मौसम में जिगर में गर्मी हो जाती है जिस कारन भूख कम लगती है और पानी पीने को मन करता रहता है ,फालसे का शरबत लीवर की गर्मी को कम करता है और हृदय के लिए भी लाभकारी है ,तेज धुप में ज्यादातर सर घूमने लगता है और चक्र से आने लगते है इस विकार के लिए फालसे का शर्बत बहुत गुणकारी है इसको पीने से चित भ्रम ,बेचैनी मानसिक अशांति ठीक हो जाती है.

चन्दन का शर्वत :-

बनावटी cold drinks  की बजाए अगर आप चन्दन का शरबत उपयोग में लाते है तो गर्मिओ में होने वाली हर एक परेशानी से बचा जा सकता है ,मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए ये बहुत उत्तम आयुर्वेदिक उपचार है ,उष्ण मौसम में घबराहट और बेचैनी बहुत होती है , आँखों में जलन त्वचा की जलन , अंतर्दाह , अधिक प्यास लग्न ,बेहोशी ,नाक औरमुँह की खुश्की पित्तविकार इन सभी उपद्रवों को चन्दन का शरबत ठीक कर देता है ,बहुत लोग गर्मिओं में इसका सेवन करते है.

  1. जों का सत्तू , भी गर्मी से राहत पाने के लिए बेस्ट चॉइस है ,
  2. लस्सी या छाछ का एक गिलास तो गर्मी से बचने के लिए जरूर पीना चाहिए
  3. lemon का शराब जरूर पियें यदि आपको कमर में दर्द रहता है तो आप इसमें black paper  का पाउडर डाल कर पियें .
  4. अनार का शरबत गर्मी अर्थात दाह को मिटाता है ,प्यास को शांत करते मन को तृप्त करता है.

गुलाब का sharbat

गर्मिओं में जरूर पीना चाहिए ,ये थकावट और चित भ्रम को ठीक करता है ,गर्मिओं के सभी विकारों को कम करने के लिए गुलाब का शरबत उत्तम ओषधि है.ब्रह्मी का शरबत :ये शरबत दिमागी कमजोरी ,

उन्मांद ,सर दर्द ,नर्वस सिस्टम को ठीक करता है ,जिन लोगो को नींद कम आती हो , याददास्त कमजोर हो , उनको इसका सेवन जरूर करना चाहिए इसकी तासीर शीत होती है इस लिए garmi मे इसका सेवन करने से स्वाथ्य ठीक रहता है ,और दिमाग ठंडा रहता है .
एक बहुत पुराणी कहावत है ,

पैर गरम सिर ठंडा घर आए डॉक्टर तो मारो डंडा .

इसका मतलब ये न समझे की आपने docter को डंडा मारना है   इस कहावत का meaning है जिन लोगों के पैर गरम और सिर ठंडा होता है उनको कोई भी रोग नहीं आता .दोस्तों इस लेख में बताये गए गर्मी से राहत पाने के आयुर्वेदिक उपायों का उपयोग करें और आपने बच्चों और परिवार को स्वास्थ रखें जहा तक सम्भव हो सके केमिकल युक्त  ड्रिंक्स से परहेज करें

 8 total views,  5 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *