Love shayari in Hindi 1500 + लव शायरी

जो हकीकत में सच्चा प्यार होता है,
वो ज़िन्दगी में सिर्फ एक बार होता है,
निगाहों के मिलते ही दिल मिल जाएँ ऐसा
इत्तेफाक सिर्फ एक बार होता है

थोड़ी खुशी मांगी थी रब से, रब ने हमे
आपसे मिलाकर खुशनसीब बना दिया..

मुहब्बत की तलाश में हम दिल बेचने निकले थे,
खरीदार दर्द भी दे गया और दिल भी ले गया

आज सुबह से दिल पर कोई आहट हो रही है
आप आजाओ ना आप के साथ
चाय पीने की चाहत हो रही है

चेहरे की हँसी लबों की मुस्कान हो तुम,
धड़कता है दिल बस तुम्हारी आरज़ू में,
फिर कैसे ना कहूँ कि मेरी जान हो तुम।

Love Shayari in Hindi

मोहब्बत की भी देखों ना,
कितनी अजीब कहानी है,
जहर तों पिया मीरा ने,फिर
भी राधा ही दिल की रानी हैं

अब उतर ही गए हो दिल में,तो इतना भी बता दो
ड़पाते रहोगे यूं ही या कभी गले भी लगाओगे

मिलते ही मेरी नज़र, नज़रों से तुम्हारी,
दुनिया ये सारी बेफिज़ूल हो गयी

लव शायरी हिंदी में

अजीब सी खुशी है आप में की हम
आप के ख्यालों में खोए रहते हैं
ये सोच कर के आप खवाबो में
आओगे हम दिन में भी सोये रहते हैं

रिश्ता बनाया है तो निभाएंगे भी,
रोज तुमसे लड़ेंगे और तुमको मनाएंगे भी

एक तेरा ही खयाल आता है
जब बात चलती है मोहब्बत की

love shayari 2 lines

अच्छा लगता है हर रात तेरे ख्यालों में खो जाना
जैसे दूर होकर भी तेरे ख्यालों में खो जाना

काश मेरी यादों में तुम इस कदर उलझ जाओ
इधर हम याद करें उधर तुम समझ जाओ

इश्क है या इबादत..अब कुछ समझ नहीं आता,
एक खुबसूरत ख्याल हो तुम जो दिल से नहीं जाता

मोहब्बत की परी कहूँ यां तुमको अप्सरा कह दूँ
बुरा मानो न जान गर तुमको लव यू कह दूँ

Beautiful Love Shayari

लिख दूँ तो लफज़ तुम हो,
सोच लूँ तो ख्याल तुम हो,
माँग लूँ तो मन्नत तुम हो,
और चाह लूँ तो मोहब्बत भी तुम ही हो

सिर्फ़ दो ही वक्त पर तुम्हारा साथ चाहिए,
एक तो अभी और एक हमेशा के लिए.

ये दिल तेरे दीदार का तलबगार बहुत है,
तेरी सूरत ना दिखे तो दिखाई कुछ नहीं देता,
हम क्या करें कि तुझसे हमें प्यार बहुत है

सांस तो लेने दिया करो, आँख
खुलते ही याद आ जाते हो.

सब कुछ अधूरा सा लगता है तुम्हारे बिना,
क्या तुम्हे भी ऐसा लगता है मेरे बिना

कितना भी मिलो, मन नही भरता,,
मंदिर में मिलने वाले प्रसाद की तरह लगते हो तुम

मेरी रूह की तलब हो तुम, कैसे कहूं
सबसे अलग हो तुम

लबों को रखना चाहते हैं ख़ामोश,
पर दिल कहने को बेकरार है, मोहब्बत है
तुमसे हा मोहब्बत बेशुमार है

कभी वक़्त मिले तो सोचना जरूर,
कि वक़्त और प्यार के सिबा तुमसे ,
माँगा ही क्या था

मुस्कुराने के अब बहाने नही ढूंढ़ने पड़ते,
तुझे याद करते हैं तो तमन्ना पूरी हो जाती है

नाम तेरा ऐसे लिख चुके हैं,
अपने वजूद पर कि तेरे नाम
का भी कोई मिल जाए,
तो भी दिल धड़क जाता है

नशा था तेरे प्यार का जिसमे हम खो गए,
हमें भी नही पता चला कब हम तेरे हो गए

लम्बा सफर, हलकी बारिश,
ढेर सारी बातें सिर्फ मैं और तुम

वो इश्क़ ही क्या जिसमें हिसाब हो..
मोहब्बत तो हमेशा बेहिसाब ही होती है.

गुजर रही है जिंदगी बड़े ही नाजुक दौर से,
मिलता नहीं सकूँ तेरे सिबा किसी और से

Pyar Ki Shayari

कहां जाएंगे हम, तुम्हे छोड़ कर,
तुम्हारे बिना रात नहीं
गुजरती जिंदगी क्या गुजरेगी

वो rishta कभी नहीं टूटता,
जिसमे रूठने वाला perfect हो,
और मनाने वाला expert हो

प्यार का पता नही ज़िंदगी हो तुम..
जान का पता नही दिल की धड़कन हो तुम

तुझे चाहता हूँ पर जताया भी नहीं,
दोस्ती का रिश्ता भी न खो दूँ
इस लिए बताया भी नहीं

सुकून मिलता है जब उनसे बात होती है,
हजारों रातों में वो एक रात होती है।

करोगे क्या जो कह दूं की उदास हूं मैं
पास होऊ तो गले लगा लूं
दूर हूं तो एहसास हूं मैं

किसी को चाहो तो इतना चाहो कि,
किसी और को चाहने कि चाहत न रहे

पसंद है मुझे तेरा प्यार से मनाना,
इस लिए अच्छा लगता है
बात बात पर रूठ जाना

दीदार ऐ यार हो और तुम होश में,
यां तो वो यार नहीं यां तुम आशिक नहीं

तेरी बातों में सारी दुनियां,
मेरी बातों से सिर्फ तुम

हर ख्वाब में हमने उसे कहीं न कहीं जोड़ा,
बस इसी आदत ने हमें कहीं का न छोड़ा

मिलते ही नज़र, नज़रों से तुम्हारी,
दुनिया ये सारी, बे-फिजूल हो गई

खत में क्या लिखा था ये भूल गए
लेकिन वो लड़की आज तक याद है

बेइंतहां इश्क़ ने, बेपनाह रुलाया है,
तब जाकर आँखों ने, ये नूर पाया है

उस शख्स में बात ही कुछ ऐसी थी,
हम दिल न देते तो जान चली जाती

घुंगट उठा दिया उसने गली वीरान देख कर,
मैं भी हैरान हो गया गली में चाँद देख कर

उन्ही से सीखा है नजरअंदाज करने का हुनर,
आज उन्ही पे आजमाया तो बुरा मान गए

बहुत जुदा है औरों से मेरे इश्क की कहानी,
जख्मी का कोई निशान नहीं
दर्द की कोई इन्तेहाँ नहीं

वो बातें जूबाँ से नही निगाहों से करते है यूँ
नही हम उनकी अदाओं पे मरते हैं

माना कभी बनाई नहीं
कभी तस्वीर तेरी कागज पर,
उसका क्या जो छप गयी है मेरे दिल पर

मुहब्बत तो सिर्फ मुझे हुयी थी,
उसने तो सिर्फ दिल्लगी की थी

बस इतना करीब रहो की
बात न भी हो तो दुरी न लगे

pyar wali shayari

जो चाहता हूं बरसो से, वो आज हो जाए,
तू टकराए आकर मुझसे,
और माहौल ख़राब हो जाए

उस शख्स को खाक पीने में मजा आएगा,
जिसने इक बार वो शोख नजर देखी है

छू जाते हो कितनी दफा तुम ख़्वाब बनकर,
कौन कहता है दूर रहकर मुलाकातें नही होती.

love shayari

तेरी हसरतों से खफा कैसे हो,
तुझे भूल जाने की खता कैसे हो,
रूह बनकर समा गए हो हम में,
तो रूह फिर जिस्म से जुदा कैसे हो

किसी को याद करने की,
हर बार कोई वजह नही होती जो सुकून देते हैं
वो जो दिल में बस जाया करते हैं

true love shayari hindi

उसके चेहरे की चमक के सामने सादा लगा,
आस्मां में चाँद पूरा था आधा लगा

होठों पर हंसी आंखों में नमी हर
सांस कहती है बस तेरी ही कमी।

दर्द है तेरे जाने का एक बार मुड़ के देख
क्या हल हो गया है तेरे दीवाने का

तुझे किसी और के साथ देखने से पहले,
खुदा करे सांस रुक जाये मेरी

कमाल की अदाकारी है तुझमे,
बार भी दिल पे, राज भी दिल पे

कहाँ से लाऊँ वो शब्द जो सिर्फ तुम्हे
सुनाई दे लोग देखें चाँद को,और
मुझे सिर्फ तू दिखाई दे

न जाने कैसा रिश्ता है इस दिल का तुमसे
धड़कना भूल सकता है पर तेरा नाम नहीं

मेरी खुशियां तेरे बहाने से आई कुछ तुझे
सताने से आई कुछ तुझे मनाने से आई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *